AnalysisNews for YouPhotoWorldदुनियादेश-विदेश

193 देशों में योग किये जाने की संभावना ताइवान में सूर्य नमस्कार भी हुआ

तेहरान, ईरान में योग करतीं महिलायें
259views

सेना ने सियाचीन से दक्षिण चीन सागर तक किया योग

अलग-अलग शहरों में मौजूद रहे नेता

अवधेश कुमार

 

विश्व के कई हिस्सों में लोग योग कर रहे हैं। यह माना जा रहा है कि 193 देशों में योग का आयोजन हो रहा है। भारत में सूर्य नमस्कार शामिल नहीं किया गया लेकिन ताइवान में सूर्य नमस्कार भी योग का हिस्सा रहा और वहां के लोगों ने इसे किया। इसके अलावा अमेरिका, कनाडा, मेक्सिको, ब्रिटेन, रूस, ईरान, कंबोडिया, न्यूजीलैंड, सिडनी, चीन, मलेशिया, फिजी, बंगलादेश, नेपाल, भूटान, मंगोलिया, द. कोरिया—-आदि देशों में योग के कई कार्यक्रम आयोजित किए गए।
पाकिस्तान में भी हुआ योग
पाकिस्तान के इस्लामाबाद में भारतीय उच्चायोग ने इंटरनेशनल योगा डे मनाया। रविवार की सुबह उच्चायोग की ओर से इसकी फोटो ट्वीट किए गए। पाकिस्तान के कराची, इस्लामाबाद और लाहौर में भी कई स्थानों पर योग का आयोजन होने वाला था लेकिन आतंकियों की धमकी के कारण आयोजन रद्द कर दिए गए थे।
———————————————————–

भारतीय सेना ने सियाचिन से लेकर दक्षिण चीन सागर तक किया योग
भारतीय सैनिकों ने सियाचिन से लेकर युद्धपोत पर योगाभ्यास किया। दक्षिण चीन सागर में तैनात युद्धपोत आइएनएस रणवीर, सतपुड़़ा, कर्मोता और शक्ति पर सैनिकों ने योग किया। आइएनएस विराट और आइएनएस विक्रमादित्य पर भी नौसेना के जवानों ने योग किया। आईएनएस विक्रमादित्य और आईएनएस विराट पर भी नौसेना के जवानों ने योग अभ्यास किया। रक्षा मंत्रालय के प्रवक्ता एस कर ने एक के बाद एक कई फोटो ट्वीट कर इस बात की जानकारी दी। फोटो में सिचाचिन में बर्फ पर जवान चटाई बिछा कर योग करते नजर आ रहे थे। वहीं कक्ष के रण से लेकर विभिन्न सैन्य ठिकानों पर जवानों ने योग का अभ्या किया। रक्षा मंत्री खुद सैन्य अधिकारियों के साथ योग करते देख गए। तीनों सेनाओं के प्रमुखों ने राजपथ पर योग कार्यक्रम में हिस्सा लिया।

रक्षा मंत्री मनोहर पर्रिकर ने सेना के जवानों के साथ किया योग

अंतरराष्ट्रीय योग दिवस के अवसर पर यहां आर्मी कैंट पहुंचे रक्षामंत्री मनोहर पर्रिकर ने रिमाउंट वेटनरी कोर के ग्राउंड में फौजियों के साथ योगासन किया। इसके बाद वे मेरठ छावनी स्थित पाइन डिवीजन के मुख्यालय पहुंचे और सैन्य अधिकारियों और जवानों से मुलाकात की। उन्होंने डिव की तैयारियों के बारे में जाना और भावी रणनीति पर चर्चा की।
सुबह साढ़े नौ बजे के बाद रक्षा मंत्री छावनी से निकले और शास्त्रीनगर स्थित स्थानीय भाजपा सांसद राजेंद्र अग्रवाल के आवास पर पहुंचे। यहां कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए उन्होंने कहा कि सैन्य जरूरतों के हित को बचाये रखते हुए नागरिक जरूरतों को ध्यान में रखकर छावनी के नियमों में संशोधन किया जाएगा। छावनी के लोगों को कई मसलों में एनओसी की जरूरत पड़ती है, मेरिट के आधार पर उसे भी जारी करने पर फोकस होगा। उन्होंने कहा कि छह माह के अंदर छावनी की नागरिक सुविधाओं में बदलाव देखने को मिलेगा। इसके लिए नागरिक जरूरतों के साथ ही सेना से भी रायशुमारी की जा रही है।
रक्षा मंत्री ने हाल में ही हुए म्यांमार ऑपरेशन का जिक्र करते हुए उसकी प्रशंसा की और कहा कि एक बार फिर साबित हुआ है कि भारतीय फौज कुछ भी करने में सक्षम है। उन्होंने विकास को सरकार का सर्वोपरि एजेंडा बताया। इस मौके पर प्रदेश भाजपा अध्यक्ष डा. लक्ष्मीकांत बाजपेयी, कैंट विधायक सत्यप्रकाश अग्रवाल, मेरठ दक्षिण विधायक रवींद्र भड़ाना, सरधना विधायक संगीत सोम, महापौर हरिकांत अहलूवालिया सहित बड़ी संख्या में नेता-कार्यकर्ता उपस्थित थे।

कैबिनेट मंत्री, मुख्यमंत्री, नेता

केंद्रीय कैबिनेट मंत्रियों के नेतृत्व में विभिन्न राज्यों में लोगों ने योगाभ्यास किया। जबकि गृहमंत्री राजनाथ सिंह लखनऊ में, पीयूष गोयल मुंबई में, नितिन गडकरी नागपुर में, स्मृति ईरानी शिमला में, राधामोहन सिंह व रामविलास पासवान पटना में मौजूद रहे।
राजपथ पर पीएम मोदी ने खुद योग के आसन किए और केंद्र सरकार के मंत्री अलग-अलग शहरों में योग कार्यक्रमों में हिस्सा लेते नजर आए।
* कोलकाता में दूर संचार मंत्री रविशंकर प्रसाद ने योग किया।
* एचआरडी मिनिस्टर स्मृति ईरानी ने शिमला में योग कार्यक्रम में हिस्सा लिया।
* गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने लखनऊ में योग कार्यक्रम में हिस्सा लिया।
* राजस्थान की मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे ने अपने सहयोगियों के साथ जयपुर में योग किया।
* गुजरात की मुख्यमंत्री ने आनंदीबेन पटेल ने भी योग किया। उन्होंने ट्वीट कर कहा- पूरे गुजरात में 1.25 करोड़ लोगों ने पहले हिस्सा लिया।

हरियाणा के मुख्यमंत्री ने ट्रैकसूट में किया योग, बालकृष्ण भी हुए शामिल

पेकिंग, चाीन में महिलायें
पेकिंग, चाीन में महिलायें
ताईवान में योग
ताईवान में योग
आईएनएस विक्रांत
आईएनएस विक्रांत

yoga-picture good

 

पहले अंतरराष्ट्रीय योग दिवस के अवसर पर दिल्ली के राजपथ पर सुबह 7 बजे से लेकर 7:35 बजे तक चले कार्यक्रम में 21 आसनों के साथ योगाभ्यास किया गया।

21 जून को पहले विश्व योग दिवस के अवसर पर 35 मिनट के दौरान 21 आसन किए गए। इसके लिए योग गुरु रामदेव ने विशेष तौर पर 35 मिनट का एक योग पैकेज तैयार किया था।
—————————————————————————

उत्तर प्रदेश के विभिन्न जिलों में विश्व योग दिवस उत्साह से मनाया गया। मेरठ में रक्षा मंत्री मनोहर पर्रिकर ने सेना के जवानों के साथ आरवीसी सेंटर में योग किया।

मेरठ के चौधरी चरण सिंह विश्वविद्यालय और सूरजकुंड पार्क में हजारों की भीड़ ने योग किया। सूरजकुंड पार्क में हिन्दुस्तान ने पतंजलि योग पीठ के तत्वावधान में योग कार्यक्रम आयोजित किया गया।

सहारनपुर में विश्व योग दिवस पर लोग उमडे़। रिमाउंट डिपो से लेकर मोहल्ले के पार्कों तक योग का क्रेज दिखा। बिजनौर जिले में नेहरु स्टेडियम के साथ बिजनौर में कई स्थानों पर हुआ योग। हिन्दू-मुस्लिम साथ-साथ में शामिल हुए।

बुलंदशहर जिले जगह जगह में योगोत्सव में 50 हजार से ज्यादा लोग शामिल हुए। मुजफ्फरनगर शहर में 14 बडे़ स्थानों पर कार्यक्रमों का आयोजन किया गया। बागपत और हापुड़ में भी योग दिवस मनाया गया।

विश्व योग दिवस पर योग का जादू मुरादाबाद के लोगों के सिर चढ़ कर बोला। शहर के सभी पार्क और स्टेडियम में योग शिविर आयोजित हुए। आम और खास लोगों ने एक साथ बैठकर योग प्रशिक्षकों के निर्देश पर योग का प्रशिक्षण हासिल किया। रेलवे अफसरों ने भी मनोरंजन में योग किया।

विश्व योग दिवस पर सुबह से ही योग के लिए लोग योग शिविरों में पहुंचना शुरू हो गए। शनिवार को हुई बारिश से मौसम ठंडा था इसका फायदा लोगों ने उठाया और योग करने में जमकर रुचि दिखाई। पतंजलि योगपीठ, आर्ट ऑफ लिविंग और आर्य समाज के साथ ही तमाम योग प्रशिक्षकों ने शहर के अलग-अलग स्थानों पर अपने-अपने योग शिविर आयोजित किये।

सभी शिविरों में साधकों की खासी तादाद रही। इसके साथ ही एनसीसी के कैटेट्स ने पीएसी के जवानों के साथ योग किया। रेलवे मनोरंजन सदन में आयोजित शिविर में डीआरएम समेत सभी रेल अफसरों और कर्मचारियों ने योग किया। भाजपा, आम आदमी पार्टी और रोटरी क्लब, भारत विकास परिषद तथा कई अन्य सामाजिक संगठनों की ओर से योग शिविर आयोजित हुए, जिनमें संगठन से जुड़े लोगों ने योग किया। कई संस्थाएं शाम को भी योग शिविर आयोजित कर रही हैं।

रामपुर शहर में एतिहासिक रजा लाइब्रेरी मैदान में समाज के हर वर्ग के लोग न केवल पहुंचे बल्कि विश्व योग दिवस के मौके पर आयोजित शिविर में योग किया। लोगों का कहना था कि योग किसी जाति धर्म से ताल्लुक नहीं रखता बल्कि शरीर को स्वस्थ्य रखने और दवाओं से बचने का एकमात्र माध्यम है। योग को धर्म और जाति में बांटकर नहीं देखा जाना चाहिए

अमरोहा शहर में जेएस डिग्री कालेज में सुबह साढ़े पांच बजे से ही शहरी जुट गए। यहां मौजूद प्रशिक्षकों ने योग की क्रियाएं समझाईं साथ ही लोगों को योग कराया। अमरोहा शहर के अलावा गजरौला, मंडी धनौरा, हसनपुर, संभल जिले में भी लोगों ने योग शिविरों में भाग लेकर तन को निरोगी करने की क्रियाएं जानी और इन्हें आजमाया।
देश-दुनिया के साथ लौहनगरी जमशेदपुर के लोगों ने भी स्वस्थ रहने के लिए योग करने का संकल्प लिया। शहर के मैदानों और पार्कों में सुबह पांच बजे के बाद ही लोगों का पहुंचना शुरू हो गया। सबका मकसद एक ही था, बिना खर्च निरोग रहना और अपनी रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाना।

योगाभ्यास 6 से साढ़े सात बजे के बीच किया गया। मौका था अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस का, जिसमें जगह-जगह विभिन्न संगठनों के द्वारा आयोजित कार्यक्रमों में करीब 45 हजार लोगों ने योग किया। इस आयोजन में हर उम्र के स्त्री और पुरुषों ने शिरकत की।

 

Leave a Response

Awadhesh Kumar
A well known Public figure,Tv Panellist, Versatile senior Journalist,writer, popular public speaker in high demand, Political Analyst as well as Social Political Activist.

Top Reviews

Video Widget